भारत और पाकिस्तान शांति के लिए सहमत, सीमा पर अब नहीं चलेगी गोली

नई दिल्ली ( 29 मई ): सीमा पर लगातार तनाव बना हुआ है। इस बीच मंगलवार को पाकिस्तान और भारत के डीजीएमओ के बीच बातचीत हुई। पाकिस्तानी सेना सीमा पर पिछले कुछ समय से लगातार गोलीबारी कर रही है जिसमें कई आम नागरिक मारे गए हैं। पाक की इस नापाक हरकत का भारतीय जवानों ने जबर्दस्त जवाब दिया है और उन्हें काफी नुकसान भी पहुंचाया है। भारत की जवाबी कार्रवाई से घबराए पाकिस्तानी सेना के डीजीएमओ ने आज शाम 6 बजे हॉटलाइन से भारतीय डीजीएमओ से बात की और सीमा पर सीजफायर करने पर सहमत हो गए।पाकिस्तानी डीजीएमओ के आग्रह के पर भारतीय सेना के डीजीएमओ ने बात की। दोनों अधिकारियों ने सीमा पर शांति बहाल करने और मौजूदा तनावपूर्ण माहौल को सुधारने के लिए ईमानदार प्रयास करने पर सहमत हुए। दोनों डीजीएमओ ने 2003 के सीजफायर समझौते को लागू करने पर भी सहमत हुए। दोनों अधिकारी इस बात पर भी एकमत नजर आए कि अब सीमा पर दोनों पक्षों की ओर से सीजफायर उल्लंघन नहीं किया जाएगा।दोनों अधिकारियों ने बैठक में इस बात पर भी सहमति जताई कि अगर किसी कारण से स्थिति बिगड़ती है तो सीमा पर माहौल को खराब नहीं किया जाएगा और हॉटलाइन से संपर्क और लोकल कमांडर लेवल की फ्लैग मीटिंग के जरिए इसे सुलझाया जाएगा।बता दें कि रमजान के महीने में भी पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था। कुछ दिन पहले बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई से सहमे पाक ने गोलाबारी रोकने का अनुरोध किया था पर एक बार फिर से उसने सीमा पर गोलीबारी शुरू कर दी थी। जम्मू-कश्मीर के अलग-अलग इलाकों में पाकिस्तान की ओर से की जा रही फायरिंग में गत बुधवार को 4 लोगों की मौत और 20 लोगों के घायल हो गए थे।