पाकिस्तान अपनी कब्र खुद खोद रहा है, 20 असफल देशों की लिस्ट में शामिल

नई दिल्ली ( 1 नवंबर ): आतंकवाद की पनाहगाह के रूप में अपनी पहचान स्थापित कर चुके पाकिस्तान को एक बार फिर आइना दिखाया गया है। फ्रेजाइल स्टेट्स इंडेक्स 2017 की रिपोर्ट में पाकिस्तान को 20 असफल देशों की फेहरिस्त में रखा गया है और उसे कई कड़ी नसीहतें दी गई हैं। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान को पड़ोसी देशों में आतंकी भेजकर वहां अस्थिरता फैलाने की जगह खुद को बर्बादी से बचाने पर ध्यान देना चाहिए और अपनी सुरक्षा की ज्यादा चिंता करनी चाहिए। 

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान को पड़ोसी देशों, जैसे भारत और अफगानिस्तान के खिलाफ धीमा युद्ध छेड़ने या आतंकवाद फैलाने की जगह विभिन्न क्षेत्रों में सुधारों को लागू करने का प्रयास करना चाहिए। पाकिस्तान ने इस मकसद से लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी), जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम), हिजबुल मुजाहिदीन (एचएम), हरकत-उल-मुजाहिदीन (एचयूएम), सिपह-ए-साहब पाकिस्तान (एसएसपी), अहले सुन्नत वल जमात (एएसडब्ल्यूजे), लश्कर-ए-झांगवी और तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) जैसे आतंकी संगठन खड़े किए।

अब पाकिस्तान को दुनिया के शीर्ष 20 फ्रेजाइल स्टेट्स में शामिल होने के बाद यह समझना होगा कि जिस आतंकवाद को वह अपने पड़ोसी देश भारत को परेशान करने के उद्देश्य से इस्तेमाल करता रहा है, वह खुद उसके लिए नासूर बन चुका है। यह इंडेक्स इसी ओर इशारा करता है।