पाकिस्तान में क्रूरता की इंतहा, नाचने पर 5 लड़कियों को जिंदा दफना दिया

इस्लामाबाद (19 दिसंबर): उत्तर-पश्चिमी पाकिस्तान में 5 लड़कियों की एक साथ हत्या की रूह कंपा देने वाली वारदात सामने आयी है। यहां एक पंचायत ने 5 लड़कियों को महज इसलिए खौफनाक मौत की सजा दी क्योंकि ये लड़कियां एक साथ एक समारोह में नाचती और गाना गाती दिख गईं थी। 6 साल पहले यहां रहने वाले एक शख्स ने अपने मोबाइल से एक विडियो क्लिप बनाई थी।  विडियो में खुश नजर आ रही इन लड़कियों के नाम हैं बागीचा, सरीन जान, बेगम जान, अमिना और शाहीन।  

लड़के-लड़कियों के साथ मिलकर नाचने-गाने को कबीले की पंचायत ने पाप माना और उनकी मौत का फरमान जारी कर दिया गया। बताया जा रहा है कि इन लड़कियों के परिवार वालों ने कई हफ्ते तक उन्हें बंद रखा। उनपर उबलता पानी और जलते हुए कोयले फेंके। इतने क्रूर जुल्म करने के बाद आखिरकार इन पांचों लड़कियों की हत्या कर पहाड़ में कहीं दफना दिया गया। विडियो में दिख रहा इकलौता लड़का अफजल का भाई था। विडियो में लड़कियों के साथ होने और नाचने-गाने के कारण उसके कई भाइयों की हत्या कर दी गई।

बाद में जब यह मामला सामने आया, तो परिवार और रिश्तेदारों ने जांच अधिकारियों के आगे इन लड़कियों के जिंदा होने का दावा किया। अपने दावे को सही साबित करने के लिए इन परिवारों ने पांचों लड़कियों से मिलती-जुलती शक्ल वाली लड़कियों को भी पेश किया। ये लोग खुद को निर्दोष बताने के लिए इस हद तक चले गए बाद में पेश की गई लड़कियों में से एक के अंगूठे को ही बिगाड़ दिया। ऐसा इसलिए कि इन पांचों में से जिसके रूप में उसे पेश किया जा रहा था, उसके अंगूठे का निशान सरकारी पहचान पत्र में सुरक्षित था। अंगूठे का वह मिलान होता, तो इन परिवारों का झूठ सामने आ जाता।

पिछले हफ्ते वॉशिंगटन पोस्ट को दिए गए एक इंटरव्यू में अफजल ने कहा, 'इस घटना ने मेरे परिवार को बर्बाद कर दिया। पांचों लड़कियां मर चुकी हैं। मेरे भाइयों की हत्या हो चुकी है। हमें बचाने या फिर हमें न्याय दिलाने के लिए कोई कोशिश नहीं की गई।' अफजल को उनकी कोशिशों के एवज में लगातार धमकियां मिलती रहीं। उनकी जान को खतरा था। इसी वजह से वह अपने घर भी नहीं जा सकते। वह कहते हैं, 'मैं जानता हूं कि शायद मेरी भी हत्या कर दी जाएगी, लेकिन मुझे फर्क नहीं पड़ता है। जो हुआ, वह गलत था और इस परंपरा को बदलना होगा।'