Blog single photo

पाकिस्तान के पास ज्यादा है परमाणु हथियार, फिर भी भारत की धमक

परमाणु हथियारों के जखीरे पर स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीपरी) ने रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में चीन और पाकिस्तान को भारत के मुकाबले संख्याबल में भले ही ज्यादा बताया गया हो पर नई दिल्ली के पास मौजूद परमाणु हथियार काफी सक्षम और किसी को भी जवाब देने के लिए पर्याप्त हैं।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 19 जून ): पाकिस्तान और चीन के पास भारत के मुकाबले ज्यादा परमाणु हथियार हैं, इसके बावजूद विश्वसनीय तरीके से भारत की धमक है। भारत एक जिम्मेदार परमाणु शक्ति है। एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।परमाणु हथियारों के जखीरे पर स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीपरी) ने रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में चीन और पाकिस्तान को भारत के मुकाबले संख्याबल में भले ही ज्यादा बताया गया हो पर नई दिल्ली के पास मौजूद परमाणु हथियार काफी सक्षम और किसी को भी जवाब देने के लिए पर्याप्त हैं।रिपोर्ट पर भारतीय रक्षा सूत्रों ने बताया कि संख्या से ज्यादा मारक क्षमता जरूरी है और भारत इस मामले में आगे है। सीपरी के रिपोर्ट के मुताबिक चीन के पास भारत से दोगुना परमाणु हथियार हैं वहीं, पाकिस्तान भी परमाणु जखीरे के मामले में भारत से थोड़ा आगे है। रिपोर्ट के मुताबिक चीन के पास करीब 280 न्यूक्लियर वॉरहेड हैं। पाकिस्तान के पास 140-150 के बीच परमाणु हथियार हैं वहीं, भारत के पास 130-140 परमाणु हथियार हैं।रिपोर्ट के अनुसार साल 2018 की शुरुआत तक भारत, पाकिस्तान, अमेरिका, रूस, यूके, फ्रांस, चीन, इजरायल और उत्तर कोरिया के पास करीब 14,465 परमाणु हथियार थे। हालांकि 2017 के शुरुआत की तुलना में यह संख्या कम है, क्योंकि तब इन देशों के पास कुल 14,935 परमाणु हथियार थे। इस गिरावट की वजह रूस और अमेरिका द्वारा अपने हथियारों में कटौती लाना था। गौरतलब है कि दुनिया के कुल परमाणु हथियारों का करीब 92 फीसदी हिस्सा इन दोनों देशों में ही है।

NEXT STORY
Top