भारत के बाद बांग्लादेश ने भी सुनाई पाक को खरी-खरी

नई दिल्ली (17 अगस्त): भारत के बाद बांग्लादेश ने भी आतंकवाद को बढ़ावा देने के मुद्दे पर पाकिस्‍तान को आड़े हाथों लिया है। बांग्‍लादेश का कहना है कि इस बात को साबित करने के पर्याप्‍त सबूत हैं कि पाकिस्‍तान आतंकवाद को पाल-पोस रहा है।

बांग्‍लादेश के सूचना और प्रसारण मंत्री हसनुल हक इनू ने कहा, 'आतंकवाद पर पाकिस्‍तान का रिकॉर्ड बहुत खराब है और पिछले कई सालों के दौरान इसमें कोई बदलाव नहीं आया है। पाकिस्‍तान आतंकवाद का आश्रय स्‍थल बना हुआ है और इस बात को साबित करने के बहुत सारे सबूत हैं।'

हसनुल हक भारत के दौरे पर आए हैं और बुधवार को उन्‍होंने अपने भारतीय समकक्ष वेंकैया नायडू से मुलाकात की। इस दौरान दोनों देशों ने आतंकवाद से मिलकर लड़ने की प्रतिबद्धता जताई। इसके लिए सूचनाओं के आदान-प्रदान पर सहमति बनी है। हसनुल ने कहा, 'जरूरी सूचनाओं को साझा करने से अफवाहों, झूठ और तथ्‍यों के तोड़-मरोड़ पर रोक लगेगी। ऐसा करने से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में आपसी समझ मजबूत होगी।'

हक ने यह भी कहा क‍ि दोनों देशों के बीच कुछ जरूरी मुद्दों पर आपसी सहमति बनी है। इस बैठक में नायडू ने भी कहा कि आतंकवाद से मुकाबले में सूचनाओं का प्रसार बेहद जरूरी है, क्योंकि भारत और बांग्लादेश दोनों ही आतंकवाद की समस्या से जूझ रहे हैं।