News

PAK सरकार का अजीब फैसला: हर लड़की को मिलेगी 4 मुर्गी, 1 मुर्गा और 1 पिंजरा... जानिए क्यों?

नई दिल्ली (27 अगस्त): भारत में लड़कियों को अलग-अलग राज्य सरकारें यूनीफॉर्म, किताबें, साइकिल, लैपटॉप देती हैं, ताकि वे भविष्य में कामयाब बनें। लेकिन पाकिस्तान में लड़कियों को मुर्गी, मुर्गा और पिंजरा दिया जा रहा है। पाकिस्तान में पंजाब प्रांत की सरकार की यह स्कूली लड़कियों के लिए अजीबोगरीब स्कीम है। लड़कियों को 4 मुर्गी, 1 मुर्गा और 1 पिंजरा दिया जाएगा। लड़कियों को इनका ख्याल रखना होगा। 

पंजाब प्रांत की सरकार ने इसके लिए अनोखी दलील भी दी है, सूब के पशुपालन विभाग के अधिकारी नसीम सादिक ने बताया कि इस योजना का मकसद मुर्गीपालन को बढ़ावा देना है। साथ ही इस कवायद का मकसद है कि लड़कियों की खाना बनाने में, चूल्हे-चौके में दिलचस्पी पैदा की जा सके। फिलहाल सरकार ने एक हजार स्कूलों में यह योजना शुरू करने का ऐलान किया है। इसके लिए 3.5 करोड़ का बजट भी प्रस्तावित कर दिया गया है।

पाकिस्तान में हो रहा है विरोध... - यह प्रोजेक्ट अगले महीने से शुरू करने का प्रस्ताव है। - इसके लिए 1000 प्राइमरी स्कूलों की लड़कियों को सिलेक्ट किया गया है।  - लेकिन इस ऐलान के साथ ही महिला कार्यकर्ताओं की भौंहें भी तन गई हैं। - महिलाओं ने इस फैसले का विरोध शुरू कर दिया है।  - सोशल मीडिया पर भी सरकार का खूब मजाक उड़ाया जा रहा है।  - पाकिस्तान के चैनलों में इस पर डिबेट हो रही है। - एक मानवाधिकार कार्यकर्ता का कहना है कि सरकार की इस हरकत पर हमे शर्मिंदगी हो रही है। - कार्यकर्ता ने कहा हमें अफसोस है कि इस पर बहस करनी पड़ रही है। - साथ ही कहा कि जहां दुनिया आगे बढ़ रही है वहीं पाकिस्तान पीछे जा रहा है।

सोशल एक्टिविस्ट आगे आए... - पाकिस्तान की सामाजिक कार्यकर्ता फरजाना बारी ने इसका विरोध शुरू कर दिया है।  - उनका कहना है ऐसे ही समाज कंजर्वेटिव होता है। यहां सरकार लड़कियों को सिखा रही है कि उनकी दुनिया बस रसोई तक है।  - सरकार को तो लड़कियों की हौसला अफजाई करनी चाहिए, बजाय इसके कि उनके दिमाग में यह बात डाली जाए कि एक औरत सिर्फ चूल्हा-चौका ही करती है। - बेहतर होता कि सरकार स्कूली लड़कों पर भी ध्यान देती, उनके अंदर भी जिम्मेदारी और बराबरी की भावना पैदा करती। - यदि सरकार इस प्रोजेक्ट को लड़कों के स्कूलों में भी शुरू करती है तो वे सीख पाएंगे कि रसोई में क्या, कैसे करते हैं। वे महिलाओं का हाथ बंटाना भी सीखेंगे।

सोशल मीडिया में उड़ रहा है मजाक... - हम लैपटॉप और कन्याधन बांटते हैं, वे मुर्गी व पिंजरा बांट रहे, हमसे कुछ तो सीख रहे हैं।  - तभी तो इज्जत के नाम पर बेटियां मार दी जाती हैं। सरकार ही नहीं चाहती कि वे आगे बढ़ें। - बेटियां मुर्गी पालन करें और खाना बनाएं। बेटे बंदूक चलाएं और बम फोड़ें। पाक बदल रहा है। - जब बेटियों को किचन में बंद कर सिर्फ चूल्हा-चौका कराया जाएगा, तो वे क्या कर पाएंगी।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top