'आतंकी बुरहान की मौत पर विधवा विलाप क्यों कर रहा है पाकिस्तान'

नई दिल्ली (14 जुलाई ): अमेरिकी सांसदों ने कहा कि है कि  कश्मीरी आतंकवादी की मौत पर पाकिस्तान का विधवा विलाप साबित करता है कि वो आतंकवादी संगठनों को उसके समर्थन कर रहा है। फाउंडेशन फॉर डिफेंस ऑफ डेमोक्रेसिज के लॉन्ग वॉर जर्नल के वरिष्ठ संपादक बिल रोजियो ने कहा, 'भारतीयों ने पिछले हफ्ते एक कश्मीरी आतंकवादी को मारा जो हिजबुल मुजाहिदीन का सदस्य था। यह एक खूंखार आतंकवादी संगठन है। पाकिस्तान ने इस आतंकवादी के मारे जाने पर भारत का समर्थन करने के बजाये आतंकियों को समर्थन दिया है। 

फाउंडेशन फॉर डिफेंस ऑफ डेमोक्रेसिज के लॉन्ग वॉर जर्नल के वरिष्ठ संपादक बिल रोजियो ने कहा:

- अमेरिकी सांसदों ने पाकिस्तान को खूब खरी-खोटी सुनाई - उन्होंने कहा पाकिस्तान को अमेरिका से मिलने वाली सारी मदद बंद कर देनी चाहिए - भारत के सुरक्षा बलों ने उस आतंकी को मार जो आतंकियों की ऑनलाइन भर्ती करता था और आतंकवादी हमले करने के लिए युवाओं में जहर घोलता था - पाकिस्तान सरकार से सहायता हासिल करने वाले कश्मीरी आतंकवादी संगठनों के आधार अफगानिस्तान में है - लश्कर-ए-तैयबा और हरकत उल मुजाहिदीन अफगानिस्तान में प्रशिक्षण शिविर चला रहे हैं