पाकिस्तान में कुछ भी संभव, महज 8 घंटे में अपने पूर्व PM को दे चुका है फांसी

नई दिल्ली (10 अप्रैल): भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को साजिश के तहत पिछले साल ईरान से अगवा कर बिना किसी सबूत को ऐजेंसी रॉ का एजेंट बताकर फांसी की सजा देने का फरमान सुना दिया है। पाकिस्तान की इस हरकत पर जानकारों का कहना है कि वहां कुछ भी मुमकिन है। पाकिस्तान मामलों के जनकारों के मुताबिक जब पाकिस्तान महज 8 घंटे में अपने पूर्व पीएम को फांसी दे सकता है तो वह कुछ भी कर सकता है।


आपको बता दें कि पाकिस्तान 1979 में अपने पूर्व प्रधानमंत्री जुल्फीकार अली भुट्टो को फांसी दे चुका है। 1977 में तत्कालीन पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल मोहम्मद जिया-उल-हक ने जुल्फीकार अली भुट्टों का तख्तापलट दिया। फिर केस चलाकर अपना पक्ष रखने का मौका दिए बिना फांसी की सजा सुना दिया। 3 अप्रैल 1979 को शाम 6 बजे उन्हें फांसी की सजा सुनाई गई और महज 8 घंटे में 4 अप्रैल रात 2 बजे उन्हें फांसी पर लटका दिया।