भारत द्वारा बुलाए गए स्पीकर शिखर सम्मेलन में शामिल नहीं होगा पाकिस्तान

नई दिल्ली ( 30 जनवरी ): अगले महीने इंदौर में होने वाले स्पीकर्स समिट में पाकिस्तान के शामिल होने से मना कर दिया है। यह जानकारी अधिकारियों ने दी। भारत-पाकिस्तान संबंधों में जमी बर्फ को पिघलाने की दिशा में भारत सरकार ने पाकिस्तान को समिट में शामिल होने का न्यौता भेजा था। सार्क के ज्यादातर देशों में समिट में शामिल होने के लिए अपनी सहमति दे दी है।

इंडियन पार्लियामेंट और इंटर पार्लियामेंट यूनियन के बैनर तले इस समिट का आयोजन किया जा रहा है। 18 और 19 फरवरी तक दो दिनों तक चलने वाले इस सम्मेलन में सस्टेनेबल डेवलपेंट गोल्स को हासिल करने के तरीकों पर चर्चा की जाएगी। पिछले साल नवंबर में इस्लामाबाद में आयोजित होने वाले सार्क सम्मेलन के निरस्त होने के बाद ये पहला मौका होगा जब सार्क के दूसरे सदस्य एक मंच को साझा करेंगे।

स्पीकर्स समिट का पिछले साल बांग्लादेश में आयोजित की गई थी, जबकि अगली समिट श्रीलंका में होगी। पीएम मोदी की इच्छा के मुताबिक इस अंतरराष्ट्रीय समिट को दिल्ली के बाहर आयोजित किया जा रहा है।

उरी में सेना कैंप पर आतंकी हमले के बाद कूटनीतिक तौर पर भारत ने पाकिस्तान को अलग-थलग कर दिया था। सार्क के दूसरे देशों ने भी भारत के पक्ष का समर्थन करते हुए इस्लामाबाद में आयोजित होने वाले सार्क सम्मेलन में शामिल होने से इंकार कर दिया था। स्पीकर्स समिट के बारे में भारतीय अधिकारियों ने कहा कि इसका सार्क की गतिविधियों से लेना-देना नहीं है। ये समिट आइपीयू के द्वारा बुलाई गई है।