पाकिस्तान ने फिर मढ़ा जासूसी का आरोप, भारत ने नकारा

नई दिल्ली (25 मार्च): बलूचिस्तान और कराची में कथित जासूसी और आतंकवादी गतिविधियों रॉ का हाथ होने के आरोप में पाकिस्तान ने कड़ा ऐतराज़ जताया है।  'डॉन डॉट कॉम' के मुताबिक नवाज़ शरीफ के विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज़ अजीज़ ने भारतीय उच्चायुक्त गौतम बम्बावाले को बुलाकर इस पर कड़ा ऐताराज़ जताया है।

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों ने दावा किया है कि गिरफ्तार किया गया शख्स रॉ का अफसर है। मूलतः वो भारत की नौ सेना का अफसर है। पाकिस्तान की एजेंसियों का ये भी आरोप है कि वो बलूचिस्तान में अलगाववादियों के संपर्क में था कराची में हुए आतंकी हमले में शामिल था। इस रॉ अफसर को आगे की पूछताछ के लिए इस्लामाबाद लाया गया है। पाकिस्तान के दावे पर भारत के विदेश मंत्रालाय ने कहा है कि भारत सरकार का इस गिरफ्तारी से कहीं भी दूर-दूर तक नहीं है। विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान स्थित अपने मिशन के अधिकारियों से कहा है कि वो गिरफ्तार किये गये भारतीय नागरिक से मिल कर सही बात मालूम करे।