पनामा पेपर मामले में कोर्ट ने नवाज शरीफ और उनके बेटों को किया तलब

नई दिल्ली (14 सितंबर): पाकिस्तान के नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) कोर्ट ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनके बेटों हुसैन व हसन को बुधवार को समन जारी करके तलब किया है। इन्हें एनएबी की ओर से दायर किए गए भ्रष्टाचार के मामलों में 19 सितंबर को पेश होने को कहा है। 

पनामा पेपर मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर भ्रष्टाचार रोधी संस्था ने पिछले हफ्ते शरीफ परिवार और वित्त मंत्री इशाक डार के खिलाफ चार मामले दायर किए थे। सुप्रीम कोर्ट ने 28 जुलाई को इस मामले में शरीफ को अयोग्य घोषित किया था। इसके चलते उन्हें प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। 

एनएबी ने कहा है कि आरोपियों को विदेश में अपनी संपत्तियों के बारे में विवरण देने के लिए पर्याप्त समय दिया गया, लेकिन वे जांचकर्ताओं के सामने पेश नहीं हुए। जस्टिस आसिफ सईद खोसा की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय पीठ शरीफ परिवार की ओर से दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं पर पहले ही सुनवाई कर रही है। शरीफ और उनके परिवार ने इन याचिकाओं में शीर्ष अदालत के 28 जुलाई के फैसले को चुनौती दी है।