पाक के लिए नियम बदल सकता है ICC, अगले वर्ल्ड कप से बाहर होने का है खतरा

नई दिल्ली(10 सितंबर): पाकिस्तान टीम पर 2019 के वर्ल्ड कप क्रिकेट से बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है। पाक टीम आईसीसी की वनडे रैंकिंग में 9th पोजिशन पर है। अगर अगले साल सितंबर तक पाकिस्तानी टीम इसी नंबर पर रही तो वह वर्ल्ड कप के लिए सीधे क्वॉलिफाई नहीं कर पाएगी। टॉप 8 टीमों को सीधे एंट्री मिलेगी। पाक को क्वालीफाइंग राउंड खेलकर क्वालीफाई करना होगा। 

- क्रिकेट एनालिस्ट टिम विगमोर ने एक मैगजीन में लिखा है कि यह केवल पाकिस्तान के लिए ही नहीं आईसीसी के लिए भी चिंता की बात है। उन्होंने अपने कॉलम में अहम सवाल उठाया है कि पाकिस्तान को वर्ल्ड कप में खिलाने के लिए आईसीसी

अपने नियमों में बदलाव करेगा? 

- उन्होंने इसकी मजबूत वजहें भी गिनाई हैं।

1.भारत-पाक मैच से आईसीसी के रेवेन्यू को लगभग एक अरब डॉलर का फायदा होगा।

2.भारत-पाक मैच में सबसे ज्यादा टीवी दर्शक होते हैं।  

अभी क्या है नियम?

- अभी वनडे रैंकिंग में टाॅप-8 पोजिशन रखने वाली टीमें सीधे वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई कर लेती हैं। उसके बाद की रैंकिंग वाली टीमों के लिए क्वालिफायर मैच होते हैं। पाकिस्तान पर इसी राउंड में खेलने का खतरा मंडरा रहा है। रेवेन्यू में होने वाले घाटे के खतरे को देखते हुए आईसीसी टॉप-8 टीमों के डायरेक्ट क्वालिफाई करने के नियम को ऐसे बदल सकता है कि पाकिस्तान को फायदा पहुंचे। पाक के लिए क्यों है मुश्किल?

- इस समय पाकिस्तान के 86 प्वाइंट्स हैं। 2001 में वनडे रैंकिंग का सिस्टम आने के बाद से यह पाकिस्तान का सबसे बुरा दौर है। 

- अभी पाक टीम वेस्ट इंडीज से 8 प्वाइंट पीछे हैं। इतना गैप एक साल में भरना पाकिस्तान के लिए बड़ी चुनौती होगी। इसी एक साल में पाकिस्तान को ऑस्ट्रेलिया और वेस्ट इंडीज का दौरा भी करना है।