'पाक खुफिया एजेंसी ISI का मोहरा हक्कानी अफगानिस्तान में फैला रहा है आतंक'

नई दिल्ली (21 जून): अफगानिस्तान के फर्स्ट वाइस प्रेसीडेंट अब्दुल रशीद दोस्तम ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी इंटर सर्विस इंटेलिजेंस (आईएसआई)के सीधे संऱक्षण में पल-बढ रहा सिराजुद्दीन हक्कानी अफगानिस्तान में हिंसा फैला रहा है। अफगानी सैन्य बलों के साथ बैठक में दोस्तम ने कहा कि आईएसआई अफगानिस्तान सरकार को अस्थिर करने के प्रयास कर रही है।

इसीलिए वो हक्कानी नेटवर्क को आतंकी हमलों में मदद कर रही है। उन्होंने कहा कि हाल में तैनात तालिबान के नये मुखिया मावलावी हैबतउल्लाह और  उसका पहले डिप्टी मुल्ला याकूब दिखावटी चेहरे हैं। तालिबान की असली ताकत सिराजुद्दीन हक्कानी के हाथों में है। आईएसएई, सिराजुद्दीन हककानी को  हैबतउल्लाह के पीछे रख कर खेल खेल रही है। उन्होंने कहा पाकिस्तान सरकार ने हक्कानी नेटवर्क को अपने देश में संरक्षण दे रखा है। हक्कानी पाकिस्तान में बैठ कर अफगानिस्तान के खिलाफ आतंक को अंजाम दे रहा है।