पाक एयरलाइंस की फजीहत, पायलट ने चाइनीज युवती को कॉकपिट में बिठाया

नई दिल्ली ( 10 मई ): पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की एक बार फिर पूरी दुनिया में किरकिरी हुई है। एयरलाइंस के पायलट ने पूरे क्रू को कॉकपिट से निकाल दिया ताकि वो एक चीनी मुसाफिर को वहां बिठा सके। एक ताजे मामले में पीआईए के एक पायलट ने तोक्यो से पेइचिंग की उड़ान के पूरे समय एक चाइनीज महिला को कॉकपिट के अंदर के रहने की अनुमति दे दी। पिछले दिनों पीआईए का ही एक पायलट इस्लामाबाद से लंदन की फ्लाइट में विमान को एक ट्रेनी के हवाले कर डेढ़ घंटे के लिए सो गया था, वहीं इसी साल पीआईए की ही दुबई जा रही एक फ्लाइट में पायलट ने सात लोगों को खड़े होकर सफर करने की अनुमित दे दी थी।


पाक मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार रविवार को एयरलाइंस के कैप्टन शहजाद अजीज ने तोक्यो से पेइचिंग जा रही फ्लाइट में एक चाइनीज युवती को कॉकपिट के अंदर बुला लिया। पेइचिंग आने तक (तकरीबन तीन घंटे) युवती अंदर ही रही। इस दौरान पायलट का सहायक भी आधे घंटे के लिए कॉकपिट से बाहर रहा।


फ्लाइट लैंड होने पर जैसे ही युवती कॉकपिट से बाहर निकली कुछ यात्री वीडियो बनाने लगे। इस पर क्रू मेंबर्स ने उन्हें कैमरा बंद करने को कहते हुए धमकाया। बाद में कई यात्रियों ने पायलट पर 150 लोगों की जिंदगी को खतरे में डालने का आरोप लगाया। 2015 में भी पीआईए के एक पायलट ने पूर्व क्रिकेटर और नेता इमरान खान की पूर्व पत्नी रेहम खान को लाहौर से लंदन की फ्लाइट में कॉकपिट में बैठने की अनुमित दे दी थी।