नवाज़ शरीफ के बाद जनरल शरीफ भी दुनिया के सामने गिड़गिड़ाने लगे

नई दिल्ली (अकटूबर): एलओसी पार भारत के सर्जिकल ऑपरेस के बाद अपमानित महसूस कर रहे पाकिस्तान के आर्मी चीफ राहिल शरीफ ने नेताओं की तरह बयानवाजी करनी शुरु कर दी है। राहिल ने कहा है कि  अंतरराष्ट्रीय समुदाय से सर्जिकल स्ट्राइक के मामले में भारत के 'उकसावे और पाखंड' की निंदा करे।

 पाकिस्तान के रिसालपुर में एक मिलिटरी इवेंट में अपने मुंह-मियां मिट्ठू बनत हुए राहील शरीफ ने कहा, कि भारत ने कश्मीर की लाइन ऑफ कंट्रोल पर की गई कार्रवाई के बारे में झूठ और तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर अपनी हताशा का प्रदर्शन किया है।

घरेलू आतंकवाद के मसले पर बोलते हुए पाकिस्तान के आर्मी चीफ ने कहा कि ऑपरेशन जर्ब-ए-अज्ब के जरिए सेना ने आतंकी ढांचे को सफलता से खत्म किया है और आतंकी तत्वों को आतंकविरोधी लड़ाई में शिकस्त दी है। उन्होंने कहा कि किसी भी कीमत पर आतंकी साजिशों को सफल नहीं होने दिया जाएगा। शरीफ ने कहा, 'पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में महत्वपूर्ण योगदान दिया है इसलिए हम अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपेक्षा करते हैं कि वह भारत के उकसावे और पाखंड की निंदा करे।' 

भारत को हताश बताने वाले पाकिस्तानी जनरल यह भूल गये कि उन्हीं के अखबार 'डॉन'ने लिखा था कि उरी हमले के बाद दुनिया में अलग-थलग पड़ने से परेशान  नवाज शरीफ सरकार ने सेना को जैश व अन्य आतंकी गुटों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं।