'दोस्त' चीन को खुश करने के लिए भारत की चिंता बढ़ाएगा पाकिस्तान !

इस्लामाबाद (15 मार्च): रणनीतिक रूप से अहम माने जाने वाले विवादित गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पाकिस्तान अपना पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी कर रहा है। पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर यानी PoK से सटे होने के कारण भारत के लिए पाकिस्तान का यह कदम चिंता का सबब बन सकता है।

जानकारों के मुताबिक पाकिस्ता के इस चाल के पीछे चालबाज चीन का हित जुड़ा हुआ है। दरअसल गिलगित-बाल्तिस्तान की अस्थिर स्थिति को लेकर चीन की चिंताओं के कारण पाकिस्तान को इसका दर्जा बदलने के लिए मजबूर होना पड़ा है। डॉन समाचार पत्र में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान सीपेक को कानूनी रूप देने के प्रयास में इस क्षेत्र के संवैधानिक दर्जें को बढ़ाने पर विचार कर रहा है।

गौरतलब है कि 46 अरब डॉलर की लागत से बनने वाला चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) इसी इलाके से होकर गुजरेगा। वहीं, चीन की इस योजना पर भारत कई बार आपत्ति जता चुका है। भारत का मानना है कि पाक अधिकृत कश्मीर से गुजरने के चलते यह योजना भारत की संप्रभुता का उल्लंघन है।