PM मोदी की बड़ी पहल, अब पद्म पुरस्कारों के लिए होगी ऑनलाइन सिफारिश

नई दिल्ली (17 अगस्त): पद्म पुरस्कारों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने बड़ा ऐलान किया है। नीति आयोग के कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि पहले पद्म पुरस्कार मंत्रियों की सिफारिश पर दिए जाते थे। लेकिन हमने अब इस प्रक्रिया को बदलने का फैसला किया है और अब इसमें हर कोई भाग ले सके इसके लिए हमने विशेष प्रावधान किया है।

उन्होंने कहा कि हमारे देश में पद्म अवॉर्ड कैसे मिलते थे आपको पता ही होगा। कोई नेता सिफारिश कर दें, सरकार सिफारिश कर दे और ज्यादातर नेताओं के जो डॉक्टर होते हैं, वही पद्म के लायक होते हैं। हमने इसमें छोटा बदलाव किया है। हमें सिफारिश करने के लिए किसी की जरूरत नहीं है। ऑनलाइन कोई भी व्यक्ति खुद के लिए, किसी के लिए डिटेल भेज सकता है। आपने गौर किया होगा की आजकल ऐसे-ऐसे लोगों को पद्म पुरस्कार मिल रहे हैं, जो जाना-पहचाना चेहरा नहीं है।

इसबार बंगाल के ऐसे ही साधारण व्‍यक्ति को पद्म श्री दिया गया। उसकी खासियत थी कि वो अपनी मोटरसाइकिल से लाचार लोगों को अस्पताल ले जाने में मदद करता था, ऐसा इसलिए क्‍योंकि उनकी मां एंबुलेंस की कमी के कारण अपनी जान गवां दी थी। उसी दिन से उस सख्‍स ने संकल्प किया और लोगों को अपनी गाड़ी से लोगों को अस्‍पताल ले जाने की सुविधा देता। वो पुरे इलाके में एंबुलेंस अंकल के नाम से जाना-जाने लगा। कहने का मतलब है कि देश के कई ऐसे लोग हैं जिसके पास बहुत कुछ है देने के लिए, सरकार की कोशिश है कि ऐसे ही लोगों को आगे लाया जाए।