पद्म अवॉर्ड्स की लिस्ट से काटे गए थे धोनी समेत कई के नाम

नई दिल्ली(27 मार्च): सरकार ने इस साल पद्म अवार्ड्स की लिस्ट से पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी, दिवंगत एयरहोस्टस नीरजा भनोट, धार्मिक नेता गुरमीत राम रहीम समेत कई हस्तियों के नाम काट दिए थे।


- सरकार को पद्म अवार्ड्स के लिए 18768 लोगों के नाम की सिफारिशें मिली थीं।


- बता दें कि सरकार ने जनवरी में 89 लोगों को पद्म अवॉर्ड्स देने का एलान किया था। इनमें से 7 पद्म विभूषण, 7 पद्म भूषण और 75 पद्मश्री अवार्ड शामिल थे।


- एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, होम मिनिस्ट्री ने नॉमिनेशंस की लिस्ट साझा की है। इसमें एनसीपी चीफ शरद पवार और बीजेपी लीडर मुरली मनोहर जोशी का नाम नहीं है, जबकि इन्हें पद्म विभूषण देने का एलान किया गया है।


- रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में जुड़े ऑफिसर्स ने बताया कि सरकार की मर्जी से दोनों नेताओं को "पब्लिक अफेयर्स" कैटेगरी में अवार्ड मिला। लिस्ट में इसका जिक्र नहीं है कि इनके नामों की पैरवी किसने की।


- होम मिनिस्ट्री ने इन नामों को खारिज करने की वजह नहीं बताई है।


- लिस्ट में सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस अमिताभ रॉय, एनआईए के फाउंडर चीफ स्वर्गीय राधा विनोद राजू, मनोज वाजपेयी, जया बच्‍चन, विधु विनोद चोपड़ा और अनु मलिक जगह नहीं बना पाए।


- जिन नामों को हटाया गया उनमें इंडियन क्लासिकल सिंगर पंडित अजय पोहणकर, क्‍लासिक म्‍यूजिशियन गुलाम मुस्‍तफा वारिस खान, तीरंदाज रहीं डोला बनर्जी, निशानेबाज अभिनव बिंद्रा और बैडमिंटन प्‍लेयर ज्‍वाला गुट्टा भी शामिल हैं।


- इन अवार्ड्स के लिए गायक सोनू निगम, श्रीदेवी, जर्नलिस्ट अर्नब गोस्‍वामी, प्रीतीश नंदी और फैशन डिजाइनर रोहित बल के नामों की भी सिफारिश की गई थी।


- एयरहोस्टेस नीरजा भनोट की मौत 1986 के प्लेन हाईजैक में हुई थी। उनके नाम की सिफारिश बीजेपी सांसद किरण खेर ने की थी।


- सुप्रीम कोर्ट की जिस बेंच ने जयललिता और शशिकला को आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराया था, उसमें जस्टिस रॉय भी शामिल थे।