मोदी का बनारस और पुलिस के पहरे में बकरा...!

नई दिल्ली (7 सितंबर): दो लोगों के आपसी विवाद में एक बकरे को रात भर पुलिस के पहरे में रहना पड़ा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कबीर चौरा अस्पताल में इलाज के लिए आयी दो महिलाओं ने एक बकरे को अस्पताल परिसर में घूमते हुए देखा और उसे पकड़ कर अपने साथ ले जाने लगीं। संदीप नाम के युवक ने दोनों महिलाओं को ऑटो में बकरे को लेजाते हुए देखा तो उसने ऑटो समेत दोनों महिलाओँ को रोक लिया। इतने संदीप का भाई भी आ गया। दोनों पक्षों में कहा सुनी होने लगी।

संदीप और उसके भाई ने महिलाओं से बकरा छीन कर अपने कब्जे में ले लिया। लेकिन महिलाएँ बकरे को छोड़ने के लिए तैयार नहीं थीं। उनका कहना था कि कुछ महीने पहले उनका यह बकरा भोजूबीर स्थित उनके घर से चोरी हो गया था। बात इतनी बढ़ी कि पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा और बकरे समेत दोनों पक्षों को थाने में बिठाकर मामले को शांत करने की कोशिश की। जब किसी तरह बात नहीं बनी तो एसएचओ ने कहा दोनों पक्ष बकरे का मालिकाना हक का सुबूत लेकर आयें। सुबह से शाम और शाम से रात हो गयी। कोई नहीं आया। इसलिए रात भर बकरे को पुलिस के पहरे में रहना पड़ा। सुबह पुलिस ने बकरा एक अन्य स्थानीय निवासी की सुपुर्दगी में सौंप दिया।