ओवैसी ने मुलायम और PM मोदी पर साधा निशाना, बोले- यूपी सरकार मुझसे क्यों डरी हुई है?

फैजाबाद (8 फरवरी): एमआईएमआईएम के नेता असदुददीन ओवैसी ने दलित-मुस्लिमों को जोड़ने के लिए सियासी दांव चला है। ओवैसी ने कहा कि उनकी पार्टी दो सबसे दबे कुचले समुदायों को मिलाकर यूपी में नया अध्याय लिखेगी। हैरत की बात यह है कि उन्होंने अयोध्या के पास बीकापुर विधानसभा उपचुनाव से पहले एक जनसभा को संबोधित किया और बाबरी मस्जिद मुद्दे का जिक्र तक नहीं किया।

ओवैसी ने कहा, ‘हम राज्य में नया अध्याय लिखेंगे। दो सबसे दबे कुचले समुदायों दलित और मुस्लिम को ‘जय भीम, जय मीम’ के नारे पर हाथ मिलाना चाहिए।’ उन्होंने मुलायम सिंह यादव और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए नरेंद्र मोदी के साथ सुखद रिश्ते बनाने का आरोप लगाया। यही नहीं पार्टी के मुस्लिम नेताओं को बोलने नहीं देने का आरोप लगाया।

ओवैसी ने कहा, ‘मुलायम और अखिलेश मुझसे क्यों डर रहे हैं? उन्होंने मुझे अलग-अलग कारणों से पिछले तीन सालों में दौरा करने के लिए 15 मौकों पर अनुमति नहीं दी।’ओवैसी ने कहा, ‘उनके सभी परिजन (मोदी के साथ) मोबाइल फोन पर सेल्फी लेने में व्यस्त थे।’ बसपा ने बीकापुर सीट पर अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला किया है।