बॉडी बनाने का भूत सवार है तो जरूर पढ़ें यह खबर...

नई दिल्‍ली (6 फरवरी): जिम में वर्कआउट करना आपका पैशन है, तो यह हो सकता है कि आपको इनफर्टिलिटी क्लीनिक्स के चक्कर काटने पड़ जाएं। जी हां, यह सच है। ऐसा हम नहीं बल्कि विशेषज्ञों का कहना है।

देर तक और गलत तरह से जिम में वर्कआउट, एक्सरसाइज और वेट ट्रेनिंग करना लोगों को इनफर्टिलिटी क्लीनिक्स में पहुंचा रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि जिम में जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज और वेट ट्रेनिंग से स्पर्म कमजोर होते हैं। दरअसल, ऐसा करने से स्पर्मेटिक कॉर्ड में वैरिकोज वेन्स बढ़ जाती है, जिससे स्पर्म काफी कमजोर होते हैं।

गौरतलब है कि इनफर्टिलिटी क्लिनिक्स में आने वाले पुरुषों में से 20 प्रतिशत पुरुष वैरिकोज वेन्स की समस्या के शिकार होते हैं, जिन्हें आखिरकार सर्जरी करवानी पड़ती है। इसका एक बड़ा कारण गलत तरीके से एक्सरसाइज करना भी है। डॉक्टरों की सलाह है कि पहली बार जिम जाने वाले लोगों को चाहिए कि वे इंस्ट्रक्टर की मदद लें और पूरी गाइडेंस में ही एक्सरसाइज करें।