पटना: महिला सिपाही की मौत पर पुलिसवालों ने काटा जमकर बवाल, कमांडेंट का मारकर फोड़ा सिर

                                                       महिला सिपाही सुनीता कुमारी  (मृतक)

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 2 नवंबर ): बिहार की राजधानी पटना के लोदीपुर स्थित पुलिस लाइन में शुक्रवार की सुबह जमकर बवाल हुआ। बीमारी से एक महिला सिपाही सविता कुमारी पाठक की अस्पताल में मौत के बाद बाकी के सिपाही भड़क गये। पुलिस लाइन में तोड़फोड़ के बाद बाहर सड़क पर भी गाड़ियों को पलट दिया। ग्रामीण एसपी, डीएसपी सहित कई थानेदारों को पीटा गया। बाहर मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे को तोड़ा तो लोदीपुर के ग्रामीणों और पुलिसकर्मियों में जमकर पथराव हुआ। इस तरह करीब पांच घंटे तक लोदीपुर रणक्षेत्र बना रहा।हंगामे के दौरान ट्रेनी पुलिसवालों ने एसपी सिटी, सार्जेंट और डीएसपी की पिटाई की तो पुलिस लाइन पहुंचे एससपी को देखते ही पथराव किया। पुलिसवालों के हमले के दौरान सार्जेंट मेजर सह डीएसपी मसलाउद्दीन, एसपी सिटी और एसपी ग्रामीण को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। पटना पुलिस लाइन में शुक्रवार को जमकर हंगामा हुआ है। दरअसल पुलिस लाइन में तैनात एक महिला सिपाही काफी दिनों से बीमार थी। सिपाही को डेंगू हुआ था। वह काफी समय से छुट्टी मांग रही थी लेकिन उसे छुट्टी नहीं मिल रही थी  जब उसका स्वास्थ्य अधिक खराब हो गया तो उसे पटना के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया।

शुक्रवार को इलाज के दौरान महिला सिपाही की मौत हो गई। इस बात से नाराज पुलिस कांस्‍टेबलों ने हंगामा कर दिया। कांस्‍टेबलों ने पुलिस लाइन में खड़ी दर्जनों गाड़ियों में तोड़फोड़ कर दी और कई राउंड गोलियां चलाईं। हंगामे के दौरान सार्जेंट मेजर सह डीएसपी मसलाउद्दीन, एसपी सिटी और एसपी ग्रामीण को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया है।पांच घंटे के बाद तांडव के बाद पुलिस लाइन की स्थिति नियंत्रण में आई। एसएसपी मनु महाराज के अनुसार सार्जेंट मेजर मसलेउद्दीन को निलंबित कर दिया गया है। साथ ही पूरे मामले की जांच के लिए कमिटी बनाई गई है। वीडियो फुटेज के आधार पर तोड़फोड़ में शामिल पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी। एसएसपी मनु महाराज ने कहा कि मृत महिला सिपाही के परिजनों को 11 लाख रुपये का मुआवजा और एक परिजन को नौकरी देने की मांग को स्वीकार किया गया है।

शुक्रवार को पटना की सड़कों पर पुलिस का नंगा नाच देखा गया। महिला पुलिसकर्मी की मौत के बाद पुलिस लाइन में पुलिसकर्मियों की गुंडई देखने मिली। वर्दी में इनकी हरकतें गली के गुंडों से भी गिरी हुई थीं। छुट्टी नहीं मिलने का आरोप लगाकर महिला पुलिसकर्मियों ने जमकर उत्पाद मचाया।पटना की सड़कों पर वर्दी वाले गुडों ने मीडिया कर्मियों को भी दौड़ा दौड़कर पीटा। न्यूज़ 24 के कैमरामैन सन्नी कुमार का मोबाइल भी तोड़ दिया गया। इसके अलावा भी कई मीडिया कर्मियों को इन वर्दी वाले गुडों ने घेर कर पीटा है। यही नहीं अपना गुस्सा निकालने के लिए इन्होंने आम जनता को भी अपना निशाना बनाया है।