फिर सक्रिय हुआ लखवी, आतंकी गतिविधियों के लिए जुटा रहा फंड

नई दिल्ली(10 मई): मुंबई हमले का मास्टर माइंड और लश्कर-ए-तैयबा का कमांडर जकीउर रहमान लखवी एक बार फिर लोगों के सामने आ गया है। लखवी 2015 में लाहौर हाई कोर्ट से जमानत पाने के तीन साल बाद सामने आया है।टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक लखवी कथित रूप से अपने संगठन की आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के गेहूं किसानों से चंदा इकट्ठा कर रहा है। भारतीय एजेंसियों से मिली खुफिया जानकारी के मुताबिक, मोस्ट वांटेड आतंकी लखवी अप्रैल 2015 में रावलपिंडी के अडियाला जेल से रिहा होने के बाद भले ही लोगों की नजरों से दूर हो गया , लेकिन उसने अपने आतंकी संगठन का नेतृत्व करना जारी रखा।टाइम्स ऑफ इंडिया ने सूत्रों के हवालों से लिखा कि लखवी फरवरी 2018 में फिर नजर आया और गेहूं की कटाई के मौसम में सक्रिय रूप से पंजाब में चंदा जमा कर रहा है। लश्कर-ए-तैयबा विभिन्न कार्यक्रमों के जरिए पैसा जुटाता है और फाइनैंशल ऐक्शन टास्क फोर्स ( FATF) की लटक रही तलवार के बावजूद इसके दानदाताओं की सूची में नए नाम जुड़े हैं।इस साल फरवरी में FATF ने कहा था कि आतंकी संगठनों पर लगाम लगाने में नाकाम रहने पर यह जून में पाकिस्तान को अपनी वाच लिस्ट या फिर ग्रे लिस्ट में डाल देगा।