भारतीय टीम के दिग्गज खिलाड़ी और पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने अंतरराष्ट्रीय हॉकी से लिया संन्यास


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 सितंबर): भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने बुधवार को अंतरराष्ट्रीय हॉकी से संन्यास की घोषणा की। उनका ये निर्णय हॉकी इंडिया द्वारा एशियाई चैंपियंस ट्ऱॉफी और विश्व कप के लिए घोषित 25 सदस्यीय कोर ग्रुप की घोषणा के बाद आया। एचआई ने इस कोर ग्रुप में सरदार सिंह को जगह नहीं दी गई थी। ऐसे में सरदार ने संन्यास का ऐलान कर दिया। 

32 वर्षीय मिडफील्डर ने  कहा,  मैंने अंतरराष्ट्रीय हॉकी से संन्यास लेने का फैसला कर लिया है। मैंने अपने करियर में बहुत हॉकी खेली। 12 साल का वक्त बहुत लंबा होता है जो मैंने टीम के साथ गुजारा। अब युवा खिलाड़ियों के हाथों में कमान देने का वक्त आ गया है।सरदार ने आगे कहा, मैंने ये निर्णय अपने परिवार और हॉकी इंडिया के साथ चर्चा करने के बाद लिया है। मुझे लगता है कि अब जीवन में अब समय हॉकी से परे देखने का आ गया है।
जब सरदार से ये पूछा गया कि क्या उन्होंने ये निर्णय विश्व कप और एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के लिए घोषित कोर ग्रुप में जगह नहीं मिलने के बाद लिया है तो उन्होंने इस सवाल का जवाब नहीं दिया। लेकिन इससे पहले टीम इंडिया के मिडफील्डर ने कहा था कि 2020 टोकियो ओलंपिक तक खेलना चाहते हैं। हालांकि सरदार अपने संन्यास की आधिकारिक तौर पर घोषणा शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में करेंगे।

हॉकी इंडिया ने बुधवार को राष्ट्रीय शिविर के लिए 25 सदस्यीय मजबूत कोर ग्रुप की घोषणा की, जिसमें उनका नाम शामिल नहीं था जिससे अटकलें लगाई जा रही हैं कि उन्हें संन्यास लेने के लिए बाध्य किया गया था, लेकिन इस दौरान ही उन्होंने यह फैसला किया।

शिविर की टीम से बाहर किए जाने के बारे में पूछने पर सरदार ने इस सवाल को टालते हुए कहा कि वह शुक्रवार को दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने संन्यास की आधिकारिक घोषणा करेंगे। सरदार ने भारत के लिए सीनियर टीम में पदार्पण पाकिस्तान के खिलाफ 2006 में किया था और इसके बाद से वह टीम की मध्यपंक्ति में अहम खिलाड़ी बने हुए हैं।