भाजपा ने योगी को बनाया यूपी का सीएम, विपक्ष ने लगाया धुव्रीकरण का आरोप

नई दिल्ली ( 19 मार्च ): उत्तर प्रदेश में भाजपा को प्रचंड बहुमत प्राप्त हुआ है। यूपी के मुख्यमंत्री के लिए योगी आदित्यनाथ के नाम की घोषणा होते ही एक तरफ उनके समर्थकों ने जश्न मनाना शुरू कर दिया, तो वहीं विपक्ष के नेताओं ने इस फैसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर निशाना साधा।


कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, तृणमूल कांग्रेस और माकपा जैसे दलों ने सोशल मीडिया और बयान जारी कर योगी को कट्टर हिंदुत्व का चेहरा और ध्रुवीकरण की राजनीति करने वाला बताया है। कांग्रेस ने कहा कि इससे 'स्पष्ट' है कि बीजेपी ध्रुवीकरण की राजनीति कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निर्विवादित रूप से स्पष्ट संदेश दे दिया है। एक धुर सांप्रदायिक, हिंदूवादी नेता योगी आदित्यनाथ का चयन कर बीजेपी यूपी में ध्रुवीकरण की राजनीति को हवा दे रही है, जिसके स्पष्ट प्रभाव के तौर पर न सिर्फ उत्तर प्रदेश, बल्कि पूरे देश में कट्टर हिंदूवादी विचारधारा मजबूत होगी।


उधर तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत राय ने कहा कि बीजेपी के पास बहुमत है और यह उनका विशेषाधिकार है कि वे किसे अपना मुख्यमंत्री चुनते हैं, लेकिन यह बिल्कुल स्पष्ट है कि बीजेपी उत्तर प्रदेश में कट्टर हिंदुत्व की राजनीति करना चाहती है।

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की नेता वृंदा करात ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) उत्तर प्रदेश को हिंदुत्व परियोजना का केंद्र बनाना चाहता है। उनके सीएम के चयन से आरएसएस का एजेंडा स्पष्ट होता है, क्योंकि वे उत्तर प्रदेश को हिंदुत्व परियोजना का केंद्र बनाना चाहते हैं।