यूपी विधानसभा में विपक्ष ने सीटी बजाकर किया जोरदार हंगामा, राज्यपाल पर फेंके कागज के गोले

नई दिल्ली ( 15 मई ): उत्तर प्रदेश में सत्रहवीं विधानसभा के गठन के बाद विधानमंडल का पहला सत्र सोमवार को शुरू हुआ। सत्र शुरू होते ही सदन में जबरदस्त हंगामा हुआ। गवर्नर राम नाईक के सदन में आते ही राष्ट्रगान शुरू हुआ। राष्ट्रगान के खत्म होते ही सपा और बसपा के नेता गवर्नर पर कागज के टुकड़े फेंकने लगे। राज्यपाल के अभ‌िभाषण के बीच ही व‌िपक्ष ने पर्चे फेंके और हंगामा शुरू कर द‌िया। व‌िपक्ष ने सदन में हंगामे के साथ सीट‌ियां बजाईं और वेल को घेरकर राज्यपाल पर कागज के गोले भी फेंके।


हंगामे के बीच ही गवर्नर अपना अभिभाषण पढ़ते रहे और विपक्ष के नेता हाथों में बैनर-पोस्टर लेकर हंगामा करते रहे। इसके बाद नाराज गवर्नर ने कहा, ''पूरा यूपी देख रहा है कि विपक्ष क्या कर रहा है। विधायकों का सदन में ये व्यवहार उचित नहीं है।'' बता दें, ये 17वां विधानसभा सेशन 22 मई तक चलेगा। विपक्ष लॉ एंड ऑर्डर के मुद्दे पर योगी सरकार को घेरने की कोशिश रहा है।


व‌िपक्ष ने सदन में हंगामे के साथ सीट‌ियां बजाईं और वेल को घेरकर राज्यपाल पर कागज के गोले फेंके जाने लगे। वहीं कुछ अपनी सीटों पर हाथो में पोस्टर-बैनर लेकर कर रहे हंगामा करते दिखाई दिए। इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ सदन में विधायकों का हंगामा देखते रहे।

पहली बार विधानसभा के प्रथम सत्र की कार्यवाही को दूरदर्शन के जरिये सीधे प्रसारित की जा रही है। 15 से 22 मई तक प्रस्तावित सत्र में सरकार उप्र राज्य वस्तु एवं सेवा कर विधेयक भी पेश करेगी।