कालाधन वालों पर कहर बनकर टूट रहे हैं इनकम टैक्स वाले, 1 करोड़ खाते हैं निशाने पर

नई दिल्ली (6 फरवरी): नोटबंदी के बाद अब काले धन वालों प रइनकं टैक्स वाले कहर बन टूट रहे हैं। बैंकों में जमा हुए बेहिसाब धन की जांच के लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने 1 करोड़ बैंक खातों की जांच की है और उसका मिलान किया गया है। इसके अलावा आयकर विभाग 18 लाख लोगों को नोटिस जारी कर बैंक खाते में उनके द्वारा जमा की गई बड़ी रकम को लेकर स्पष्टीकरण मांगेगा।  टैक्स डिपार्टमेंट ने अपने डेटा बैंक में एक करोड़ से अधिक खातों के जरिये आंकड़ों का विश्लेषण शुरू किया है। इनका मिलान खाताधारकों की इनकम टैक्स की स्थिति से किया गया है। आयकर रिकॉर्ड के तहत देश में कुल 3.65 करोड़ व्यक्ति इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते हैं। इसके अलावा 7 लाख से अधिक कंपनियां, 9.40 लाख हिंदू अविभाजित परिवार तथा 9.18 लाख फर्म हैं, जिन्होंने वित्त वर्ष 2014-15 में आईटीआर फाइल किया। साथ ही वित्तीय समावेशी अभियान के तहत 25 करोड़ शून्य राशि वाले जनधन खाते खोले गए।