सावधान: 16,000 बैंक खातों के डेटा के साथ 4 गिरफ्तार

नई दिल्ली (26 जुलाई):  आपराधिक जांच विभाग के साइबर क्राइम अधिकारियों ने एक धोखाधड़ी करने वाले मार्किटिंग और फिशिंग रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

इन आरोपियों के पास से 16,000 बैंक खातों का ब्योरा और 460 सिम कार्ड मिले हैं, जिसमें दो भाई-बहन शामिल हैं। धोखेबाज ने गहरी छूट पर सामान बेचने और जमाराशि पर उच्च ब्याज का भुगतान करने वाली फर्जी वेबसाइट भी बना रखी थीं।

पुलिस अधीक्षक एमडी शरथ ने कहा, "आरोपी उम्मीद कर रहे थे कि पीड़ित पुलिस से संपर्क नहीं कर पाएंगे क्योंकि उनके पास जो राशि थी, वह छोटी थी।"

कपिल देव सुमन ऊर्फ अजय सिंह, 26 और उनके भाई सुशील कुमार सुमन (24) को बेंगलुरु में गिरफ्तार किया गया। जबकि सूरज कुमार, 25 और बीप्लव कुमार, 24 को पटना से गिरफ्तार किया गया।