RSS की तर्ज पर बदलाव की तैयारी, ध्वज वंदना करेगा कांग्रेस सेवा दल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 10 जून ): आरएसएस के बढ़ते प्रभाव का मुकाबला करने के लिए अब कांग्रेस सेवा दल ने कमर कस लिया है। उसने संघ की शाखाओं में आयोजित होने वाले ध्वज प्रणाम कार्यक्रम के मुकाबले ध्वज वंदना करने की योजना बनाई है। यह कार्यक्रम देश के एक हजार शहरों में हर महीने के आखिरी रविवार को आयोजित किए जाएंगे। इनमें महात्मा गांधी और जवाहर लाल नेहरू की नीतियों व सिद्धांतों सहित पंथनिरपेक्षता, सहिष्णुता और बहुलवाद पर आधारित राष्ट्रवाद पर चर्चा होगी।कांग्रेस सेवा दल के मुख्य संगठक लालजी भाई देसाई ने रविवार को यह जानकारी दी। उनका कहना था कि कांग्रेस सुप्रीमो राहुल गांधी से हरी झंडी मिलते ही ध्वज वंदना कार्यक्रम को शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि संगठन को मजबूत करने के लिए एक ब्लू प्रिंट तैयार किया गया है, जिसे सोमवार को राहुल गांधी की मौजूदगी में पेश किया जाएगा।  

देसाई के अनुसार, 'पिछले कुछ वर्षो में कांग्रेस सेवा दल काफी शिथिल हो गया था। उसकी सक्रियता केवल पार्टी कार्यक्रमों के आयोजन तक ही सीमित हो गई थी, लेकिन अब फिर सेवा दल को नए सिरे से मजबूत किया जाएगा।' सेवा दल प्रमुख का कहना था, 'हम अब राष्ट्र निर्माण पर जोर देंगे। इसके लिए सेवा दल को मजबूत किया जाएगा। अगले तीन महीनों में पूरे देश में प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाएंगे। इसकी शुरुआत मणिपुर से 11 जून को हो रही है।' देसाई ने कहा कि फिलवक्त देश के 700 जिलों व शहरों में कांग्रेस सेवा दल की शाखाएं हैं। हर ईकाई में 20 से लेकर 200 तक कार्यकर्ता हैं। सेवा दल जल्द ही अपनी युवा विंग शुरू करने जा रहा है।