Blog single photo

26 जनवरी को कैंसिल हो सकती हैं 1000 फ्लाइट्स, जानें वजह

26 जनवरी पर होने वाले एयर शो की वजह से आईजीआई एयरपोर्ट से ऑपरेट होने वाली फ्लाइट्स में से करीब एक हजार फ्लाइट पर कैंसल, देरी से लैंड होने या फिर टेक ऑफ के लिए री-शेड्यूलिंग किए जाने के रूप में असर पड़ सकता है। 18 से 26 जनवरी तक हर दिन 100 मिनट तक एयर ट्रैफिक को बंद करने की वजह से फ्लाइट के ऑपरेशन पर असर पड़ेगा। बताया जाता है कि इसके लिए एयर फोर्स और अन्य संबंधित एजेंसियों की ओर से दिल्ली एयरपोर्ट को चलाने वाली कंपनी डायल को जानकारी दे दी गई है।

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जनवरी): 26 जनवरी पर होने वाले एयर शो की वजह से आईजीआई एयरपोर्ट से ऑपरेट होने वाली फ्लाइट्स में से करीब एक हजार फ्लाइट पर कैंसल, देरी से लैंड होने या फिर टेक ऑफ के लिए री-शेड्यूलिंग किए जाने के रूप में असर पड़ सकता है। 18 से 26 जनवरी तक हर दिन 100 मिनट तक एयर ट्रैफिक को बंद करने की वजह से फ्लाइट के ऑपरेशन पर असर पड़ेगा। बताया जाता है कि इसके लिए एयर फोर्स और अन्य संबंधित एजेंसियों की ओर से दिल्ली एयरपोर्ट को चलाने वाली कंपनी डायल को जानकारी दे दी गई है।  

एयरपोर्ट सूत्रों ने बताया कि आईजीआई एयरपोर्ट को 18 से 26 जनवरी के बीच हर दिन सुबह 10:35 बजे से दोपहर 12:15 बजे तक बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। यानी इस दौरान ना तो कोई फ्लाइट यहां लैंड कर सकती है और ना ही टेक ऑफ। यह समय एयरपोर्ट के पीक आवर्स माने जाते हैं और इस दौरान यहां से प्रति घंटे 65 से 70 फ्लाइट्स के टेक ऑफ और लैंडिंग कराई जाती हैं।

हालांकि, एयरपोर्ट अधिकारियों का कहना है कि चूंकि यह हर साल की प्रैक्टिस है। इसलिए इस दौरान जितनी भी फ्लाइट्स का मूवमेंट होता है, उनके यात्रियों को एडवांस में जानकारी दे दी जाती है। फिर इसी हिसाब से एयरलाइंस अपनी-अपनी फ्लाइट्स के टाइम बदलकर उन्हें ऑपरेट करती हैं। लेकिन बावजूद इसके कुछ फ्लाइट्स कैंसल करनी पड़ जाती हैं। लेकिन उनके यात्रियों को उसी रूट की अन्य दूसरी फ्लाइट में एडजस्ट कर लिया जाता है। एयरपोर्ट अधिकारियों का कहना है कि कोशिश की जाती है कि इस दौरान आईजीआई से आने-जाने वाली तमाम फ्लाइट्स को इस तरह से एडजस्ट किया जाए कि यात्रियों को कम से कम परेशानी उठानी पड़े।

Tags :

NEXT STORY
Top