देश का हर तीसरा ड्राइविंग लाइसेंस फर्जी !

नई दिल्ली (12 जनवरी): देश के एक-तिहाई ड्राइविंग लाइसेंस फर्जी हैं। नितिन गडकरी ने बुधवार को कहा कि देश के सड़क परिवहन मंत्री के तौर पर उन्‍हें यह स्‍वीकार करते बेहद ‘शर्म’ महसूस होती है। सड़क सुरक्षा पर आयोजित एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करते हुए मंत्री ने कहा, ”देश में 30 प्रतिशत लाइसेंस फर्जी हैं। एक मंत्री के तौर पर मेरा ऐसा करना शर्मनाक है।” उन्‍होंने कहा, ”हम इंटेलिजेंट ट्रैफिक सिस्‍टम पर काम कर रहे हैं जिससे हम ट्रैफिक नियम तोड़ने वालों को रियल टाइम में ट्रैक कर पाएंगे।

गडकरी ने सड़क सुरक्षा में खामी की बात भी स्‍वीकारी और कहा कि हमें ‘ब्‍लैक स्‍पॉट्स पहचानने की जरूरत है। हमें रोड डिजाइन सही करनी है। यह हमारी जिम्‍मेदारी है।’ मंत्री ने इशारा किया कि सरकार नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिए कड़े कदम उठा सकती है। उन्‍होंने कहा, ”जुर्माना बढ़ाने से सकरात्‍मक प्रभाव हो सकता है, जिसके बिना लोगों को सड़क सुरक्षा के नियमों का गंभीरता से पालन कराना मुश्किल है।”