पटना: बाढ़ कोर्ट में ताबड़तोड़ फायरिंग, एक कैदी की मौत, 2 घायल

नई दिल्ली ( 8 सितंबर ): बिहार के बाढ़ जिले में हथियारबंद बदमाशों ने पुलिस के सामने एक बदमाश की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। मृतक बदमाश को पेशी के लिए कोर्ट लाया गया था। इस हमले में दो अन्य कैदी भी घायल हुए हैं। पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी है। बाढ़ कोर्ट में गोलीबारी की घटना के बाद पटना पुलिस के 25 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। इनमे कोर्ट सुरक्षा में तैनात 2 सब इंस्पेक्टर और 19 कॉन्स्टेबल शामिल हैं जबकि चार पुलिसकर्मी जेल से कैदियों के साथ आये थे। एडीजी मुख्यालय एस के सिंघल ने जानकारी दी। पटना एसएसपी मनु महाराज से पुलिस मुख्यालय ने रिपोर्ट मांगी है। 

बिहार की राजधानी पटना से 80 किलोमीटर दूर बाढ़ स्थित जिला कोर्ट में शुक्रवार को गोलीबारी की घटना से सनसनी फैल गई। इस हमले में अंडर ट्रायल कैदी गुड्डू सिंह को गोलियों से भून दिया गया। खबरों के मुताबिक, आज दोपहर करीब ढाई बजे खूंखार बदमाश गुड्डू सिंह और दो अन्य कैदियों को वैन के जरिए पेशी के लिए कोर्ट लाया गया था।

जैसे ही पुलिस वैन कोर्ट परिसर में दाखिल हुई, पांच हथियारबंद बदमाशों ने गुड्डू सिंह पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। इस हमले में दो अन्य कैदी भी घायल हो गए। गुड्डू सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश वहां से भाग निकले। घायल कैदियों को इलाज के लिए पटना रेफर किया गया है।

पुलिस ने बताया कि गुड्डू सिंह मोकामा के मरांची इलाके का नामी बदमाश था। हमलावरों की तलाश में इलाके में नाकेबंदी कर दी गई है। वारदात की सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल का मुआयना किया। बता दें कि कोर्ट परिसर में एक भी सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है। वहीं कोर्ट की सुरक्षा के लिए महज 4 पुलिसकर्मियों को ही तैनात किया गया है।

शुरूआती जांच में यह हमला गैंगवार की वजह से होना बताया जा रहा है। पुलिस गुड्डू सिंह की दुश्मनी और कई दूसरे एंगल से केस की जांच कर रही है।