काला धन रखने वालों के खिलाफ CBDT कर सकती है कारवाई

नई दिल्ली(19 जुलाई): केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने सोमवार को कहा कि नौ लाख के लेन-देन का एक डाटाबेस तैयार किया है। जिसमें से 1 लाख से ज्यादा 1 करोड़ से ऊपर के निवेश वाले जांच के दायरे में आ सकते है।

सीबीडीटी के चेयरमैन अतुलेश जिंदल ने बताया आय का पूर्ण और समय पर प्रकटीकरण सुनिश्चित करने के प्रयासों के हिस्से के रूप में एक कदम है। उन्होंने कहा कि हम उन्हें साफ आने के लिए एक मौका देना चाहता हैं। हम उनको जागरुक कर रहे हैं कि हमारे पास डेटाबेस है। उन्होंने कहा कि इसके लिए एक लाख उच्च मूल्य मामले को प्राथमिकता के आधार पर लिया गया 

जिंदल ने कहा कि आय घोषणा योजना (आईडीएस) की आखिरी तारीख 30 सितंबर है।  काले धन धारकों के पास साफ आने का एक मौका है। ऐसे लोग जिनके पास अनटैक्स एसेट्स और फंड्स है वे जल्द इसकी घोषणा कर दें।