हत्या की गयी थी ओमपुरी की ? पुलिस ने सीसीटीवी और विजिटिंग रजिस्टर जब्त किये !

नई दिल्ली (9 जनवरी): क्या ओमपुरी की मौत सामान्य हालात में नहीं हुई थी, क्या उनकी हत्या की गई थी, अगर हत्या की गयी थी तो कौन था हत्यारा और क्या था मकसद ये ढेर सारे सवाल अब औशिवारा पुलिस के जहन में घूम रहे हैं। दरअसल ये सारे सवाल ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद खड़े हुए है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के अनुसार, उनके सिर में चोट के निशान, कॉलर बोन और लेफ्ट आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। इससे पहले ओम पुरी की सामान्य मौत को लेकर कई लोगों ने आशंका भी जताई थी। ओम पुरी शुक्रवार को अपने घर में मृत पाए गए थे और दिल का दौरा पड़ना उनकी मौत का कारण बताया जा रहा था। ओशिवारा पुलिस सूत्रों के अनुसार, ओम पुरी की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पुलिस को प्राप्त हो चुकी है।

 रिपोर्ट के मुताबिक, पुरी के सिर के ऊपरी हिस्से में डेढ़ इंच गहरा और 4 सेंटीमीटर लंबा जख्म था। सिर में कई जगह क्लॉटिंग थी। कॉलर बोन और लेफ्ट अपर आर्म पर हेयरलाइन फ्रैक्चर था। इस बाबत ओशिवारा थाने के सीनियर इंस्पेक्टर सुभाष खानविलकर ने कहा,'हम हर ऐंगल से मामले की जांच कर रहे हैं। पुरी जिस बिल्डिंग में रहते थे, वहां का विजिटर्स रजिस्टर और सीसीटीवी कैमरे जब्त किए हैं। मौत से पहले आखिरी 24 घंटे में वह जिन लोगों से मिले थे, उनसे भी पूछताछ की जा रही है। उनके करीबी सूत्र ने बताया था कि ओम पुरी 5 जनवरी की दोपहर से देर रात तक लगातार शराब पी रहे थे, वह बार-बार अपने पारिवारिक और कोर्ट-कचहरी के मसलों को लेकर परेशान हो रहे थे। दोपहर से लेकर देर रात तक उनकी रिलीज के लिए तैयार फिल्म 'रामभजन जिंदाबाद' की टीम भी उनके साथ थी।