गढ़ के पास हादसे का शिकार हुई फैजाबाद एक्सप्रेस, अनेक घायल

नई दिल्ली (2 मई) :  दिल्ली-फैजाबाद एक्सप्रेस रविवार रात को हापुड़ ज़िले के गढ़मुक्तेश्वर के पास हादसे का शिकार हो गई। रात 9.05 बजे ये हादसा हुआ। ट्रेन (नंबर 14206) पुरानी दिल्ली स्टेशन से फैजाबाद जा रही थी। कपलिंग टूटने से आधी ट्रेन इंजन के साथ करीब दो किलोमीटर आगे निकल गई। वहीं ट्रेन से अलग हुए कई एसी कोच समेत 8 डब्बे टूटी कपलिंग के साथ थोड़ी दूर तक घिसटने के बाद पलट गए।

ट्रेन में सवार यात्रियों में हादसे के बाद चीखपुकार मच गई। बड़ी संख्या में यात्रियों के घायल होने की ख़बर है। पुलिस की मदद से फंसे यात्रियों को एसी कोच के शीशे तोड़कर बाहर निकालने का काम देर रात तक जारी था। अधिकारियों की ओर से किसी मौत की पुष्टि नहीं हुई है। कुछ रिपोर्ट्स में 50 लोगों के घायल होने की बात कही गई है।

हादसा गढ़मुक्तेश्वर और काकाखेर स्टेशनों के बीच अल्लाबक्शपुर गांव के पास हुआ। यात्रियों के मुताबिक चलती ट्रेन में अचानक जोर से झटका लगा और कोच पलट गए। कोच में रखा यात्रियों का सामान फैल गया। बता दें कि दुर्घटनास्थल से कुछ ही दूरी पर गंगा नदी पर बना ब्रजघाट का पुल है। वहां कपलिंग टूटने  पर हादसा और भी भयावह हो सकता था।

यात्रियों ने बाहर निकलने का प्रयास किया लेकिन महिलाएं और बच्चे अंदर ही फंसकर रह गए। चीख पुकार सुनकर पास ही मौजूद टोल प्लाजा के कर्मचारी और ग्रामीण मौके पर पहुंचे तथा यात्रियों को बाहर निकालने में जुट गए।

सूचना के बाद पुलिस और रेलवे अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंच गए थे। घायलों को गढ़ और हापुड़ के सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में भेजा गया है। उधर, मुरादाबाद डिवीजन के सीनियर रेलवे अधिकारी घटनास्थल के लिए रवाना हो चुके थे।

ट्रेन के आधे अप्रभावित हिस्से को रात 10.20 बजे गंतव्य की ओर रवाना कर दिया गया। पटरी से उतरे डब्बों की वजह से दिल्ली-मुरादाबाद सेक्शन पर कई ट्रेन्स का रूट डायवर्ट करना पड़ा और कई को कैंसल करना पड़ा। दुर्घटनास्थल के लिए मेडिकल और रिलीफ ट्रेन को रवाना कर दिया गया।