दिल्ली में टूवीलरों पर भी लागू होगा ऑड-ईवन फॉर्मूला!

नई दिल्ली (30 अक्टूबर): राजधानी दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए केजरीवाल सरकार एक बार फिर ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू करने के मूड में है। लेकिन इससे सबसे बड़ी खबर यह है कि सरकार इस बार इसमें टूवीलरों को भी छूट नहीं देगी।

प्रदूषण के लिहाज से सबसे संवेदनशील महीने नवंबर और दिसंबर ही हैं। पिछले साल नवंबर में दिल्ली की हवा सांस लेने लायक नहीं रह गई थी। इसकी वजह से स्कूलों तक को बंद करना पड़ा था। ईपीसीए के चेयरमैन डॉ. भूरे लाल ने कहा कि यदि ऑड-ईवन को लाने की नौबत आई तो इस बार टूवीलरों को भी इसमें छूट नहीं मिलेगी। छूट का दायरा उस स्थिति में कम से कम होगा।

ग्रेडेड रिस्पॉन्स ऐक्शन प्लान के तहत दिल्ली में प्रदूषण का स्तर अति खतरनाक होने पर ऑड-ईवन लागू किया जाएगा। यह कदम उस समय उठाए जाएंगे जब दिल्ली में 40 घंटों तक पीएम 10 का स्तर 500 से अधिक और पीएम 2.5 का स्तर 300 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक रहेगा। इस समय दिल्ली की कई जगहों पर पीएम 2.5 का स्तर 300 से अधिक चल रहा है। ऐसे में यह माना जा सकता है कि आसार बहुत अच्छे नहीं है।