हिरोशिमा जाने वाले ओबामा पहले अमेरिकन राष्ट्रपति

नई दिल्ली (11 मई): अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने कार्यकाल में यूं तो कई बड़े कारनामे किये हैं और नई परंपराओं को जन्म दिया है। ऐसी ही एक नई मिसाल वो 27 मई को बनाने जा रहे हैं। वो उस जगह जायेंगे जहां अमेरिका को कभी 'मानवता का दुश्मन' माना गया था। जी हां वो जापान के हिरोशीमा जायेंगे। हिरोशीमा पर 1945 में अमेरिका ने परमाणु बमों से हमला किया था। इस हमले में लगभग डेढ़ लाख लोगों की मौत हुई थी। परमाणु हमले के दंश हिरोशीमा के लोग आज भी भुगत रहे हैं। उसी अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा हिरोशीमा जायेंगे और परमाणु निशस्त्रिकरण का आह्वान करेंगे।

व्हाइट हाउस से जारी की गयी विज्ञप्ति के अनुसार ओबामा जब 21 से 28 मई को जापान और वियतनाम की यात्रा पर रहेंगे। इस बीच 27 मई को वो हिरोशिमा जायेंगे। व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जोश अर्नेस्ट ने बताया कि परमाणु हथियार रहित दुनिया की शांति और सुरक्षा के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताने के वास्ते प्रधानमंत्री (शिंजो) अबे के साथ राष्ट्रपति ओबामा हिरोशिमा की ऐतिहासिक यात्रा करेंगे। ओबामा के उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बेन रोडस ने कहा है कि ओबामा 27 मई को परमाणु हमले के पीड़ितों की याद में बनाये गये हिरोशिमा शांति स्मारक पार्क का दौरा करेंगे।