ऐतिहासिक यात्रा पर ओबामा पहुंचे हनोई, हथियारों से प्रतिबंध हटायेगा अमेरिका

नई दिल्ली (23 मई): अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा अपनी ऐतिहासिक यात्रा पर वियेतनाम पहुंच चुके हैं। ये उनकी तीन दिवसीय अधिकारिक यात्रा है। 1955 से 1975 तक चले लंबे युद्ध के बाद से वियेतमनाम अमेरिका को शत्रु की दृष्टि से देखता था। लेकिन कुछ वर्षों में हुए परिवर्तन के बाद स्थितियां दोनों ही तरफ से सुधरीं। इसी साल हुए एसियान सम्मेलन के बाद ओबामा के वियेतानाम आने की तैयारियां शुरु हो गयीं थीं।

माना जा रहा है कि चीन पर नकेल कसने के लिए वियेतनाम को तरज़ीब देना अमेरिका के लिए अनिवार्य हो गया था। इसलिए पिछले कुछ दिनों में अमेरिका और वियेतनाम के बीच संधियां भी हुई हैं। तीन दिन की इस यात्रा के दौरान भी उम्मीद है कि ओबामा वियेतनाम पर लगाये गये शस्त्र प्रतिबंधों को भी समाप्त करने वाले समझौते पर हस्ताक्षर करेंगे।

ओबामा इस दौरान हनोई के अलावा हो ची मिन सिटी भी जायेंगे। हालांकि ओबामा से पहले बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश वियेतनाम आ चुके हैं, लेकिन उन दोनों की यात्राएं महज औपचारिक ही रहीं थीं।