नर्सरी एडमिशनः ऐसे रुकेगी निजी स्कूलों की 'चंदेबाजी'

नई दिल्ली (8जनवरी): डीडीए की जमीन पर चलने वाले 298 निजी स्कूलों की नर्सरी कक्षा में दाखिले की प्रतीक्षा कर रहे अभिभावकों को राहत देते हुए उपराज्यपाल अनिल बैजल ने इन संस्थानों में नामांकन को लेकर नए दिशा-निर्देशों को अपनी मंजूरी दे दी है। इसमें दूरी को प्रमुख मानदंड रखा गया है।शिक्षा निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'डीडीए की जमीन पर चल रहे निजी विद्यालयों की नर्सरी कक्षा में नामांकन को लेकर दिशा-निर्देशों को स्वीकृति दे दी गई है। अब स्कूल आवेदन स्वीकार कर सकेंगे।' दिशा-निर्देशों के मुताबिक, स्कूल इलाके में रहने वालों को दाखिला देने से इनकार नहीं कर सकते हैं। दिशा-निर्देशों के मुताबिक, स्कूल से एक किलोमीटर की दूरी पर रहने वाले छात्रों को वरीयता दी जाएगी और अगर सीटें खाली रहती हैं तो स्कूल से 1-3 किलोमीटर दूर रहने वाले छात्रों को प्राथमिकता दी जाएगी।