भारत के इस मिसाइल परीक्षण से डरे पाकिस्तान, चीन

नई दिल्ली(2 जनवरी): डीआरडीओ ने सोमवार को बालासोर से अग्नि-4 मिसाइल का टेस्ट किया। इसकी रेंज 4 हजार किमी है। पहले रेंज 3500 तक थी।

- अग्नि-4 भी एटमी हथियार ले जाने में कैपेबल है।

- बता दें कि 27 दिसंबर को अब्दुल कलाम आईलैंड से 5 हजार किमी रेंज वाली अग्नि-5 का टेस्ट कामयाब रहा था।

- बता दें कि भारत इंटरकॉन्टीनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (ICBM) बनाने वाला पांचवा देश है।

- अमेरिका, रूस, फ्रांस और चीन हमसे पहले इस तरह की मिसाइल डेवलप कर चुके हैं।

- अग्नि-4 में सटीक निशाना साधने के लिए रिंग लेजर गायरो बेस्ड इनर्शियल नेविगेशन सिस्टम (RINS), माइक्रो नेविगेशन सिस्टम (MNS) लगे हुए हैं।

- अग्नि-4 1000 टन तक वॉरहेड ले जाने में कैपेबल है।

- सॉलिड फ्यूल से चलने वाले अग्नि-4 में दो इंजन लगे हैं। इसकी लंबाई 20 मीटर और लॉन्च वेट 17 टन है।

- इसे रोड मोबाइल लॉन्चर से दागा जा सकता है।