मोदी सरकार का किसानों को बड़ा तोहफा, इतने रुपये टन खरीदेगी पराली

नई दिल्ली (16 नवंबर): दिल्ली से सटे राज्यों में धान की पराली जलाने के बाद एनसीआर में प्रदूषण का लेवल काफी बढ़ा है। इसी को ध्यान में रखकर बिजली मंत्रालय ने कोयले से चलने वाले बिजली घरों में 10 प्रतिशत पराली के गठ्ठे (स्टबल पैलेट्स्) का प्रयोग करने की बात कही है। सार्वजिनक क्षेत्र की कंपनी एनटीपीसी (NTPC) आने वाले दिनों में इसकी खरीद के लिए निविदा जारी करेगी।

केंद्रीय बिजली मंत्री आरके सिंह ने जानकारी देते हुए कहा कि NTPC पराली के गट्ठे खरीदने के लिए आने वाले दिनों में निविदा जारी करेगी। यह खरीद 5,500 रुपए प्रति टन की दर से की जाएगी। बिजली मंत्रालय का यह कदम प्रदूषण पर अंकुश लगाने के साथ-साथ किसानों के लिए भी लाभकारी साबित होगा।

दिल्ली और आसपास के इलाकों में बढ़ते प्रदूषण के स्तर के लिए पंजाब और हरियाणा में किसानों द्वारा बड़ी मात्रा में खेतों में पराली जलाए जाने को बड़ी बजह बताया जा रहा है। जानकारों का कहना है कि किसान विकल्प के अभाव में खेतों में पराली जलाते हैं। औसतन एक किसान एक एकड़ जमीन में धान की खेती से दो टन पराली प्राप्त करता है। ऐसे में किसानों को प्रति एकड़ जमीन से 11,000 रुपए प्राप्त होंगे।