बुचड़खाने बंद होने के कारण यूपी में शेरों को दिया जा रहा है बकरे का मांस

नई दिल्ली ( 24 मार्च ): उत्तर प्रदेश की नवगठित आदित्यनाथ योगी सरकार द्वारा अवैध रुप से चलने वाले बूचडखानों को बंद करने के फरमान के बाद यहां शेरों का पेट भरने के लिए भैंस के मांस के बजाय अब बकरे के मांस से काम चलाना पड़ रहा है।


अवैध बूचड़खानों व मीट की दुकानों के खिलाफ उत्तर प्रदेश सरकार के अभियान के बाद इटावा सफारी के शेर मटन खा रहे हैं। इन्हें पहले भैंसे का मीट दिया जाता था।


दो दिन से शहर में भैंसे का मीट बिकना बंद हो गया है। इससे समस्या खड़ी हो गई। इटावा सफारी पार्क के फाॅरेस्ट रेंजर जे लाल ने कहा कि यूपी में बूचड़खाने बंद होने के बाद हम शेरों को बकरे का मांस दे रहे हैं।


इटावा सफारी पार्क में इस समय तीन शेर, तीन शेरनी व दो शावक हैं। गुजरात से लाए गए इन शेरों के लिए प्रतिदिन करीब 50 किलो भैंसे का मीट सप्लाई किया जाता था।