युद्धस्तर पर चल रहा है नोट छपाई का काम, अब तक एक लाख करोड़ के नोट छपे

नई दिल्ली (18 फरवरी): नोटबंदी के बाद अब बैंकों और एटीएम से पैसा निकालने के मामले में हालात अब भले ही काफी हद तक सामान्य नजर आ रहे हैं, लेकिन नोटों को छापने का काम अब भी युद्ध स्तर पर चल रहा है। प्रिटिंग प्रेस में सातों दिन, 24 घंटे, तीन शिफ्टों में काम कर रहा है। वित्त मंत्रालय ने कि एक लाख करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के 500 रुपये के नए नोट छापे जा चुके हैं। प्रिंटिंग प्रेस में 500 रुपये के करीब 2 करोड़ 20 लाख नोट रोजाना छापे जा रहे हैं। सिक्यॉरिटी प्रिंटिंग मिन्टिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के मुख्य प्रबंध निदेशक और आर्थिक मामलों के विभाग में संयुक्त सचिव प्रवीण गर्ग ने यह जानकारी दी है।