नोटबंदी के बाद फाइल हुए 20000 रिटर्न्स पर आयकर विभाग की नजर

नई दिल्ली (6 नवंबर): नोटबंदी के एक साल पूरे होने जा रहे हैं। सरकार और तमाम एजेंसियां नोटबंदी के दौरान ब्लैक को व्हाइट करने वाले पर शिकंजा कसने की तैयारी में है। बताया जा रहा है कि नोटबंदी के बाद फाइल किए गए कम से कम 20 हजार रिटर्न्स पर इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की पैनी नजर है। इनकर टैक्स डिपार्टमेंट ऐसे लोग और ऐेसी कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई की तैयारी में है। 

आयकर विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक ऐसी 20,572 टैक्स रिटर्न्स की जांच कर रहा है जिन पर नोटबंदी के पहले और बाद में आय का फर्क है। अधिकारी के मुताबिक विभाग ने गहन जांच के लिए एक लाख 'अधिक जोखिम' वाले मामलों की पहचान की है। सूत्रों के मुताबिक नोटबंदी के पहले और बाद में आय में आए अंतर के आकलन के आधार पर 20,572 मामलों की पहचान की गई है।

आईटी विभाग ने इस साल 31 जनवरी को काले धन के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन मनी की शुरुआत की थी। आयकर विभाग की यह मुहिम पिछले साल 8 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी के 500 और 1,000 रुपये के नोटों को बैन करने के बाद की गई थी।