नोटबंदी का असर, मंदिरों से नालियों तक 500-1000 के नोटों का ढेर

  
गुवाहाटी (14 नवंबर): 500-1000 के नोट पर पाबंदी का असर साफ दिख रहा है। नालियों में या तो ये नोट बहाए जा रहे हैं, या मंदिरों के जरिए काली कमायी को सफेद बनाने की कोशिश की जा रही है। ताजा घटना असम की राजधानी गुवाहाटी की है। सोमवार को यहां दो इलाकों में फटे हुए 500 और 1000 रुपए के नोट भारी तादाद में नाले में मिलने से सनसनी फैल गई। नाले में पड़े फटे हुए इन नोटों की कीमत लाखों रुपए में बताई जा रही है। स्थानीय लोगों ने नाले से नोट के टुकड़ों को बाहर निकाला और इसे देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी।

स्थानीय लोग नालों से सही-सलामत नोट ढूंढने के लिए टूट पड़े लेकिन 1 भी नोट सही हालत में नहीं मिला। जानकारी के मुताबिक, नोट मिलने की घटना गुवाहाटी के घोड़ामारा व रुक्मिणी नगर दो इलाकों में हुई। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है और नोटों का सैंपल लेकर फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है। हालांकि यह नोट क्यों और किसने इन्हें फेंका है यह अभी तक साफ नहीं हो पाया।


 इससे पहले रविवार को कोलकाता में 500 और 1000 रुपए के नोट बोरी में भरकर कूड़े में फेंकने का मामला सामने आया था। नोटों के दो बोरे डस्टबिन में पड़े मिले और पुलिस के मुताबिक नोटों को कूड़े में फेंकने से पहले उन्हें फाड़ा गया था। घटना कोलकाता के गोल्फ क्लब रोड पर स्थित कूड़ा घर की थी। रविवार को सुबह स्थानीय लोगों के देखने के बाद यह मामला सामने आया।