अमेरिका ने बढ़ाई युद्ध की संभावना, दागी मिसाइल

नई दिल्ली (3 मई): इस समय उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच तनाव चरम पर हैं। ऐसे में अमेरिकी वायुसेना

ने परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम लंबी दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया। इस मिसाइल का कैलिफोर्निया के

वांडेनबर्ग वायुसेना अड्डे से परीक्षण किया गया, जिसने 4,200 मील की दूरी तय की।


वायुसेना के बयान में इस परीक्षण को देश की परमाणु क्षमता का महत्वपूर्ण प्रदर्शन बताया। उनके मुताबिक, एयरबोर्न लांच कंट्रोल सिस्टम से मिनटेमन तृतीय अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया गया। रक्षा अधिकारियों के मुताबिक, अमेरिका अपनी अचूकता और विश्वसनीयात की जांच के लिए नियमित तौर पर अंतरमहाद्वीपीय हथियारों का परीक्षण करता रहा है। वायुसेना ने इसी तरह का मिसाइल परीक्षण सात फरवरी को भी किया था।


भारत को नसीहत देने वाले चीन ने बनाया स्वदेशी एयरक्राफ्ट कैरियर, समुद्र में दबदबा कायम करने की कोशिश मिनटेमन तृतीय को पारंपरिक तौर पर अमरीकी परमाणु खेमे का इकलौता भूमि से मार करने वाली मिसाइल के तौर पर जाना जाता है। मिनटेमन-3 के सफल परीक्षण के वायु सेना के अधिकारी कहा कि अमेरिका अपने अंतरमहाद्वीपीय हथियारों की विश्वसनीयता को चेक करने के लिए समय -समय पर ऐसे परीक्षण करता है।


गौरतलब है कि इन दिनों अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच तनाव का माहौल काफी बढ़ चुका है। ऐसे में अमेरिका द्वारा मिनटेमन-3 का परीक्षण युद्ध की संभावनाओं को और भी बढ़ा सकता है। ध्यान हो कि पिछले दिनों उत्तर कोरिया की ओर से फिर परमाणु परीक्षण की आशंकाओं के बीच अमेरिका की एक पनडुब्बी दक्षिण कोरिया पहुंच थी।