उ. कोरिया ने पत्रकारों को मौत की सजा सुनाई

नई दिल्ली (1सितंबर):  उत्तर कोरिया ने दक्षिण कोरिया के चार पत्रकारों को देश का अपमान करने वाली एक किताब की समीक्षा के लिए मौत की सजा सुनाई है। सरकारी मीडिया ने इसकी जानकारी दी। कंजरवेटिव समाचार पत्र से चोसुन इलबो और डोंग-ए इलबो नामक व्यक्तियों ने ‘‘नॉर्थ कोरिया कॉन्फिडेंशियल’’ के कोरियाई संस्करण की समीक्षा की थी।

सोल स्थित दो ब्रितानी पत्रकारों ने सबसे पहले वर्ष 2015 में इस किताब का प्रकाशन किया था। आधिकारिक कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के हवाले से एक बयान में इसने कहा कि अखबारों ने किताब के आवरण की तस्वीर को लेने में ‘‘जल्दबाजी’’ की। इसने कहा, ‘‘वे झूठ और अपमान की पराकाष्ठा तक पहुंच गए हैं, यहां तक कि हमारे देश के पवित्र नाम और इसके राष्ट्रीय प्रतीक का भी अपमान कर रहे हैं।’’ इसने कहा कि प्रत्येक अखबार से एक पत्रकार और दोनों प्रकाशनों के अध्यक्षों को मृत्युदंड की सजा सुनाई जाती है।