उत्तर कोरिया ने किया ऐसा परमाणु परिक्षण, तबाह हो सकते हैं तीन हिरोशिमा

नई दिल्ली(9 सितंबर): उत्तर कोरिया का कहना है कि उसने अपना पांचवा सफ़ल परमाणु परीक्षण किया है। इससे पहले परमाणु परीक्षण स्थल के नजदीक भूकम्प के झटके महसूस किए गए थे। इसके कुछ घंटों बाद सरकारी परीक्षण की जानकारी दी।

- दक्षिण कोरिया का मानना है कि यह उत्तर कोरिया का अब तक का 'सबसे बड़ा परमाणु परीक्षण' है। उसने उत्तर कोरिया के इस कदम पर चिंता व्यक्त की है।

- दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति पार्क ग्वेन-ही ने इसे 'आत्म-विनाश' वाला क़दम बताया और कहा कि इससे नेता किम जोंग-उन की सनक ज़ाहिर होती है।

- कैलिफोर्निया स्थित मीडिलबरी इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज के जेफरी लुइस ने कहा कि भूकंप की इस तीव्रता से यह पता चलता है कि यह उत्तर कोरिया द्वारा अब तक किए गए परमाणु परीक्षणों में सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण है।

- उन्होंने कहा कि वहां हुए कंपन से यह अनुमान लगाया जा सकता है कि यह परमाणु परीक्षण जापान के हिरोशिमा और नागासाकी पर गिराये गए परमाणु बम से ज्यादा शक्तिशाली होगा। 

- इससे पहले इसी साल जनवरी में उत्तर कोरिया ने चौथा परमाणु परीक्षण किया था जिसके बाद उसके खिलाफ लगे आर्थिक और अन्य प्रतिबंधों को और कड़ा कर दिया गया था।