ट्रंप की चेतावनी के बाद बौखलाया उत्तर कोरिया, दी हमले की धमकी

नई दिल्ली ( 9 अगस्त ): मिसाइल परीक्षण को लेकर अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। बुधवार को उत्तर कोरिया ने एक बार फिर अमेरिका को हमले की धमकी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी के कुछ ही घंटों के बाद उत्तर कोरिया ने गुआम पर हमले के लिए मिसाइल तैयार होने की बात कही है। गुआम प्रशांत महासागर में अमेरिका प्रशासित द्वीप है। करीब दो लाख की आबादी वाले इस द्वीप में अमेरिका का बड़ा सैन्य अड्डा भी है। वैसे गुआम के गवर्नर ने हमले के किसी आशंका को खारिज किया है।

कहा है, द्वीप की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हैं और वह लगातार व्हाइट हाउस के संपर्क में हैं। उत्तर कोरिया की पीपुल्स आर्मी के प्रवक्ता के अनुसार गुआम पर हमले के लिए पूरी सावधानी से तैयारी है। नेता किम जोंग उन का आदेश मिलते ही अमेरिकी द्वीप पर हमला बोल दिया जाएगा। प्रवक्ता ने कहा, अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ सुरक्षात्मक युद्ध लड़ रहा है। अगर अमेरिका ने और दुस्साहस दिखाया तो यह पूर्ण युद्ध में बदल जाएगा। तब गुआम ही नहीं अमेरिका के शहरों पर पूरी ताकत से हमला करने में गुरेज नहीं किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका ने उत्तर कोरिया के परमाणु हथियारों और मिसाइल कार्यक्रम पर नियंत्रण के लिए उस पर हमला करने को तैयार रहने की चेतावनी दी है। लेकिन इससे पहले वह कूटनीतिक तौर पर हर संभव प्रयास कर लेना चाहता है। इसी के चलते अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के जरिये उत्तर कोरिया पर कई तरह के आर्थिक प्रतिबंध लगवाए हैं।

इसी कड़ी में मंगलवार को राष्ट्रपति ट्रंप ने उत्तर कोरिया को कड़ी चेतावनी दी। कहा, उत्तर कोरिया के लिए अच्छा होगा कि वह अमेरिका को बार-बार धमकी न दे। वह गुस्से की आग में जलकर भस्म हो जाएगा। उत्तर कोरिया में वह सब होगा जो दुनिया ने कभी नहीं देखा होगा। उल्लेखनीय है कि एक साल से उत्तर कोरिया और अमेरिका में तनातनी जारी है। अमेरिका की लाख रोकने की कोशिश के बावजूद उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण और मिसाइलों का विकास कर रहा है।