चीन ने उत्तर कोरिया और अमेरिका को दी सलाह, एक-दूसरे को चिढ़ाना करें बंद

नई दिल्ली ( 4 मई ): कोरियाई क्षेत्र में संकट गहराता जा रहा है। इस बीच उत्तरी कोरिया संकट पर चीन ने सभी पक्षों से कहा कि वे शांति बनाए रखें और एक-दूसरे को चिढ़ाना बंद करें। चीन की यह सलाह उत्तर कोरिया द्वारा दिए गए उस बयान के बाद आई है, जिसमें उसने कहा था कि अमेरिका इस समूचे क्षेत्र को परमाणु युद्ध की ओर झोंक रहा है।


चीन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उत्तर कोरिया का इकलौता बड़ा सहयोगी है। अमेरिका ने चीन से अपील की थी कि वह उत्तरी कोरिया पर अपने परमाणु और मिसाइल कार्यक्रम बंद करने का दबाव बनाए।


अमेरिका ने प्योंगयांग की ओर से मिल रही चुनौती और परमाणु खतरे के जोखिम के मद्देनजर दक्षिण कोरिया में न्यूक्लियर क्षमता से युक्त एयरक्राफ्ट कैरियर तैनात कर दिया है। अमेरिका, जापान, दक्षिणी कोरिया और फ्रांस इसी चुनौती को ध्यान में रखकर साझा सैन्य अभ्यास कर रहे हैं।

इस पूरे घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया करते हुए चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि मौजूदा हालात बेहद उलझे और संवेदनशील हैं।

उन्होंने कहा, 'तत्काल इस तकरार को कम करना और बातचीत शुरू करना बेहद जरूरी है। हम सभी संबंधित पक्षों से अपील करते हैं कि वे शांति बनाए रखें और एक-दूसरे को चिढ़ाना बंद कर दें। सभी पक्षों को बातचीत के द्वारा इस समस्या का समाधान निकालने की कोशिश करनी चाहिए।'